Home Biography अनिल अंबानी जीवनी | Anil Ambani biography in Hindi

अनिल अंबानी जीवनी | Anil Ambani biography in Hindi

30
0

onlinesikho.in आपकी प्रतियोगी परीक्षा और सामान्य ज्ञान में वृद्धि करने के लिए आपको अनिल अंबानी की जीवनी | Anil Ambani biography in Hindi |  Anil Ambani Net Worth, age, Family, Height, Wife, Sister की मुफ्त जानकारी प्रदान करता है।

इस लेख में आप Anil Ambani की कुल संपत्ति, परिवार, स्कूल, विश्वविद्यालय, जन्म तारीख, जन्मस्थान, आयु, शारीरिक संरचना, वजन, लम्बाई वास्तविक नाम, उपनाम, वैवाहिक स्थिति आदि की जानकारी दी गयी है।

Anil Ambani Net Worth

अनिल अंबानी की जीवनी

  • नाम – अनिल धीरूभाई अंबानी
  • जन्म – 4 जून 1959
  • आयु – 62 वर्ष (2021 के अनुसार)
  • जन्म स्थान – मुंबई, महाराष्ट्र, भारत
  • पिता-धीरूभाई अंबानी
  • माता -कोकिला बेन अंबानी
  • भाई – अनिल अंबानी
  • बहन -नीना और दीप्ती
  • पत्नी -टीना अंबानी
  • बच्चे -अंशुल अंबानी, अनमोल अंबानी
  • स्कूल – मुंबई यूनिवर्सिटी से साइंस में ग्रेजुएशन
  • कॉलेज – मुंबई विश्वविद्यालय, पेंसिल्वेनिया विश्वविद्यालय, फिलाडेल्फिया, पेंसिल्वेनिया, संयुक्त राज्य अमेरिका
  • व्यवसाय – भारतीय व्यवसायी
  • राष्ट्रीयता – भारतीय
  • शौंक – दौड़ लगाना और योगा करना

परिचय-

अनिल अम्बानी भारत के एक प्रसिद्ध उद्योगपति हैं । अनिल अम्बानी ने न सिर्फ व्यापार क्षेत्र में काम नहीं किया बल्कि उन्होंने राजनितिक क्षेत्र में भी काम किया है।

अनिल अम्बानी के पिता धीरूभाई अम्बानी की अचानक तबियत खराब हुई तो 24 जून 2002 को उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया और एक सप्ताह बाद 6 जुलाई 2002 को उनकी मृत्यु हो गयी।

उन्होंने अपनी संपत्ति का दोनों बेटों के बीच में कोई भी बटवारा नहीं किया था। उनकी मृत्यु के बाद अनिल और उनके बड़े भाई मुकेश अम्बानी के बीच सम्पति को लेकर मनमुटाव शुरू हो गए।

फिर उनकी माता कोकिलाबेन ने रिलायंस इंडस्ट्रीज का बटवारा किया। अनिल अम्बानी को रिलायंस और धीरूभाई अम्बानी ग्रुप दिया गया जिसमें रिलायंस कैपिटल , रिलायंस इंफ्रास्ट्रक्चर , रिलायंस पावर और रिलायंस कम्युनिकेशन कम्पनियाँ शामिल थी। अनिल अम्बानी का नाम एक दुनिया के छठवें सबसे अमीर व्यक्ति भी रह चुके है।

जन्म-

अनिल अम्बानी रिलायंस इंडस्ट्रीज के संस्थापक धीरूभाई अम्बानी और कोकिलाबेन अम्बानी के छोटे बेटे है। उनका जन्म 4 जून 1959 को बॉम्बे [मुंबई] में हुआ है।

शिक्षा –

उनकी शुरूआती पढाई अपने बड़े भाई के साथ Hill Grange High School, Pedder Road Mumbai से की है। इसके बाद उन्होंने किशिचंद चेल्लाराम कॉलेज से बैचलर ऑफ़ साइंस B.Sc. की डिग्री हासिल की।

और फिर Wharton School of the University of Pennsylvania से 1983 में MBA मास्टर इन बिज़नेस एडमिनिस्ट्रेशन की डिग्री हासिल की।

शादी-

अनिल अंबानी की शादी पूर्व बॉलीवुड अभिनेत्री टीना मुनीम से हुई है और उनके दो पुत्र अनमोल और अंशुल हैं. अनिल अंबानी के एक बड़े भाई, मुकेश अंबानी, जो रिलायंस इंडस्ट्रीज के अध्यक्ष हैं.

मिस्टर अनिल अंबानी गुजरात से हैं लेकिन उनका निवास स्थान मुंबई में है और बॉम्बे विश्वविद्यालय से विज्ञान में बैचलर ऑफ आर्ट्स (स्नातक) किया है और पेंसिल्वेनिया विश्वविद्यालय से बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन में पोस्ट ग्रेजुएट हैं.

अनिल अंबानी शाकाहारी हैं और मैराथन दौड़ में अक्सर भाग लेते हैं इन्हें खुद को फिट रखना काफी पसंद है. अनिल अंबानी दृढ़ता से कड़ी मेहनत करने में विश्वास रखते हैं और मानते है कि काम के प्रति जुनून किसी भी नेतृत्व की भूमिका में सक्रियता का सबसे महत्वपूर्ण पहलू है.

कैरियर-

पढाई पूरी करने के बाद अपने पिता के बिज़नेस रिलायंस इंडस्ट्रीज के साथ काम करने लगे और फिर धीरूभाई अम्बानी बिना कोई संपत्ति का बंटवारा किये 2002 में मौत हो गयी।

उसके बाद अनिल अम्बानी और उनके बड़े भाई अनिल अम्बानी के बीच मनमुटाव हो गया। उसके बाद उनकी माँ कोकिलाबेन ने परिवार के बिज़नेस का बंटवारा दोनों भाइयों के बीच हुआ।

अनिल अम्बानी को रिलायंस ग्रुप की टेलीकॉम, एंटरटेनमेंट , फाइनेंसियल सर्विसेज , पावर और इंफ्रास्ट्रक्चर की कम्पनियाँ मिली।

अम्बानी को भारत की सबसे आईपीओ [इनिशियल पब्लिक ऑफरिंग] रिलायंस पावर को दिया जाता हैं इसने इंडियन कैपिटल मार्केट में साल 2008 में सिर्फ 60 सेकण्ड्स में सबसे ज्यादा सब्सक्राइब किया गया था।

साल 2005 में अम्बानी ने एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में मेजॉरिटी स्टेक के साथ एडलैब्स फिल्म्स में कदम रखा। उनकी कंपनी फिल्म को बनाने, एक्सिबिशन और डिजिटल सिनेमा में काम किया और उन्होंने अपनी कंपनी का नाम बदलकर रिलायंस मीडियावर्क्स कर दिया।

साल 2008 में स्टीवन स्पीलबर्ग की प्रोडक्शन कंपनी ड्रीम वर्क्स के साथ 1.2 बिलियन अमेरिकी डॉलर में एक जॉइंट वेंचर का अम्बानी ने मनोरंजन व्यवसाय का निर्माण किया। उन्होंने स्टीवन स्पीलबर्ग की प्रोडक्शन कंपनी की कई फिल्म्स और अकादमी अवार्ड विनिंग लिंकिन में पैसा लगाया।

अम्बानी की शरहोल्डर्स कंपनियों में 90 % से भी ज्यादा गिरावट देखी गयी जो की पिछले 100 सालों में किसी भी कंपनी के साथ नहीं हुआ। रिलायंस ADA Group एकमात्र ऐसी कंपनी है। जिसमें शेयरहोल्डर की इतनी तेजी से गिरावट हुई।

विवाद और बंटवारा-

रिलायंस इंडस्ट्रीज की नींव रखने वाले धीरूभाई अंबानी की साल 2002 में मौत हो जाने के बाद अनिल अंबानी (Anil Ambani) को रिलायंस इंडस्ट्री का अध्यक्ष जबकि अनिल अंबानी को मैनेजिंग डायरेक्टर बनाया गया।

लेकीन कुछ दिनों बाद ही दोनों भाईयों की संपत्ति को लेकर अनबन शुरू हो गई। इस वजह से दोनों भाईयों ने साल 2005 में बंटवारा कर लिया। जिसके बाद अनिल अंबानी के पास टेलीकॉम, वित्तीय सेवाओं और इलैक्ट्रिसिटी का कारोबार आया, जबकि अनिल अंबानी को केमिकल बिजनेस और ऑयल का कारोबार दिया गया।

बंटवारे को लेकर कई सालों तक दोनों अंबानी भाईयों के रिश्ते बिगड़े रहे। यहां तक की साल 2008 में अनिल अंबानी ने अपने भाई के खिलाफ 10 हजार करोड़ रुपए की मानहानि का केस भी दायर किया था।

हालांकि अब दोनों अंबानी भाईयों के बीच रिश्ते सुधर चुके है। साल 2019 में अनिल अंबानी की बेटी ईशा अंबानी की शादी में अनिल अंबानी ने शिरकत की थी, तो इससे पहले अनिल अंबानी ने कर्ज में डूबे अपने भाई की लोन चुकाकर मद्द भी की थी।

बिजनेस में असफलता-

जिस दौरान अंबानी भाईयों के बीच बंटवारा हुआ था, उस दौरान टेलीकॉम सेक्टर में खासा उछाल देखा जा रहा था, जिसके चलते यह अनुमान लगाया जा रहा था कि मिस्टरअनिल आने वाले समय में कारोबार में अपनी मजबूत धाक जमा सकते हैं, लेकिन बाद में वे कर्ज में डूब गए और कई दिवालिया कार्यवाई से गुजर रहे हैं।

दरअसल, एयरसेल समेत कई डील फेल होने के चलते अनिल अंबानी को काफी नुकसान हुआ। मिस्टर अनिल की साल 2010 में रिलांयस कम्यूनिकेशन की जीटीएल इंफ्रा के साथ हुई डील लटक गई। लेकिन फिर भी अनिल अंबानी निवेश करते रहे और साल 2017 में एयरसेल के साथ सौदा भी सफल नहीं हुआ।

मिस्टर अनिल की कंपनी ने CDMA की 2 जी और 3 जी सेवा में जमकर निवेश किया था, लेकिन जब मार्केट में 4 जी सेवा आई, उसके बाद अनिल अंबानी को एक झटके में काफी नुकसान हो गया।

रिलायंस कम्यूनिकेशन में हुए घाटे का असर अनिल अंबानी की बाकी कंपनियों पर भी पड़ा और वह लगातार कर्जे में डूबते रहे। इसके बाद मिस्टर अनिल ने रिलायंस एंटरनेटमेंट में बड़ा निवेश किया लेकिन इसमें भी उन्हें असफलता ही हाथ लगी।

आपको बता दें कि जून 2019 तक अनिल अंबानी (Anil Ambani) की रिलायंस ग्रुप की 6 कंपनियों की कुल मार्केट वैल्यू 6,196 करोड़ रुपये थी, जो कि 10 फरवरी 2020 तक 1,645.65 करोड़ रुपए तक रह गयी।

एक समय में दुनिया के सबसे अमीर शख्सियत रह चुके मिस्टर अनिल इस समय तीन चीनी बैंकों द्वारा किये गए यूके की अदालत में मुकदमे का सामना कर रहे हैं। इन बैंकों ने साल 2012 में उनकी रिलायंस कम्युनिकेशंस को 68 करोड़ डॉलर का लोन अनिल अंबानी के द्धारा व्यक्तिगत रूप से कर्ज की गारंटी लेने की शर्त पर किया गया था।

लेकिन अब खराब कारोबार के चलते मिस्टर अनिल की कंपनियां कर्ज नहीं चुका पा रही है और अब मार्केट में उनकी हालत बेहद खराब है तो वहीं दूसरी तरफ इनके भाई अनिल अंबानी ने साल 2018 में जिओ से टेलीकॉम सेक्टर में एंटरी की और यह कंपनी अच्छा खासा मुनाफा कमा रही है।

इस तरह अनिल अंबानी (Anil Ambani) का नाम अब दुनिया के सबसे अमीर शख्सियत में नहीं रह गया है। उम्मीद है कि उनकी जिंदगी में सब कुछ पहले की तरह अच्छा हो।

बड़े भाई द्वारा मदद-

साल 2019 में अनिल अम्बानी (Anil Ambani) के ऊपर Swedish Gear maker Ericsson ने मुंबई कोर्ट दर्ज कराया था। क्यूंकि अनिल अम्बानी ने Swedish gear maker Ericsson से रिलायंस कम्युनिकेशन से लोन रखा था। और वो लोन चूका नहीं पाए थे जिसकी वजह से उन्हें जेल जाना पड़ सकता था लेकिन उनके बड़े भाई अनिल अम्बानी ने वो लोन चूका कर उन्हें जेल जाना से बचाया था।

फरवरी 2020 में अनिल अम्बानी ने तीन चीनी बैंकों से लड़ाई में बंद थे। क्यूंकि उन्हें 100 मिलियन अमेरिकी डॉलर का पेमेंट करना था। लेकिन उनके द्वारा करार दिया गया था कि उनकी नेटवर्थ शून्य है। उसके बाद ये मामला UK court में चल रहा है और उन्हें तीन तीन चीनी बैंकों को 716 अमेरिकी डॉलर का पेमेंट करना हैं।

सम्मान-

  • Wharton India Economic Forum (WIEF) की तरफ से दिसंबर 2001 में मिस्टर अनिल अम्बानी को First Wharton Indian Alumni Award दिया गया ।
  • जून 1999 में Business and Finance from India ने ‘new hero’ से सम्मानित किया और एशिया वीक मैगज़ीन ने ‘Leaders of the Millennium in Business and Finance’ के अवार्ड से सम्मानित किया।
  • दिसंबर 1998 में भारत के टॉप बिज़नेस मैगज़ीन ने ‘Businessman of the Year 1997’ के आवर्ड से सम्मानित किया।
  • दिसंबर 2006 में The Times of India ने वोटिंग कराई और उसमेँ उन्हें ‘the Businessman of the Year’ के लिए सबसे ज्यादा वोट मिले।
  • अगस्त 2006 में Today magazine ने बिज़नेस लीडर्स के लिए राष्ट्र चुनाव कराया और उसमें उन्हें ‘Best role model’ के अवार्ड से सम्मानित किया गया।
  • प्लॉट्स ग्लोबल एनर्जी अवार्ड्स में उन्हें ‘the CEO of the Year 2004’ के अवार्ड से नवाजा।
  • अक्टूबर 2002 में बॉम्बे मैनेजमेंट एसोसिएशन ने ‘The Entrepreneur of the Decade Award’ से सम्मानित किया।

दिलचस्प बातें-

  • उनका जन्म धीरूभाई अंबानी और कोकिला बेन के घर मुंबई में हुआ.
  • वह अपने माता-पिता और भाई-बहनों के साथ दो बेडरूम वाले एक अपार्टमेंट में रहते थे.
  • उन्होंने बॉलीवुड अभिनेत्री टीना मुनीम से विवाह किया.
  • वह अपनी सेहत को हमेशा फिट रखने के लिए सुबह दौड़ लगाते हैं.
  •  वर्ष 2004 में, धीरूभाई अंबानी की मृत्यु के दो साल बाद रिलायंस को दोनों भाइयों में विभाजित किया गया.
  •  वह रिलायंस अनिल धीरूभाई अंबानी समूह के अध्यक्ष और संस्थापक हैं.
  • वह एक शुद्ध शाकाहारी और गैर धूम्रपान वाले व्यक्ति हैं.
  • वह एक धार्मिक व्यक्ति हैं. वह महादेव (शिव) के बहुत बड़े भक्त हैं. जिसके चलते वह कैलाश मानसरोवर की यात्रा दो बार कर चुके हैं.

Anil Ambani Net Worth

Previous articleमुकेश अंबानी जीवनी | Mukesh Ambani biography in Hindi
Next articleरतन टाटा जीवनी | Ratan Tata biography in Hindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here