Home Biography अरशद वारसी की जीवनी | Arshad Warsi Net Worth, Age, Family

अरशद वारसी की जीवनी | Arshad Warsi Net Worth, Age, Family

32
0

onlinesikho.in आपकी प्रतियोगी परीक्षा और सामान्य ज्ञान में वृद्धि करने के लिए आपको अरशद वारसी की जीवनी | Arshad Warsi Net Worth, age, Family, Height, Wife, Sister की मुफ्त जानकारी प्रदान करता है।

इस लेख में आप Arshad Warsi की कुल संपत्ति, परिवार, स्कूल, विश्वविद्यालय, जन्म तारीख, जन्मस्थान, आयु, शारीरिक संरचना, वजन, लम्बाई वास्तविक नाम, उपनाम, वैवाहिक स्थिति आदि की जानकारी दी गयी है।

arshad warsi

अरशद वारसी की जीवनी

  • नाम- अरशद वारसी
  • पूरा नाम- अरशद वारसी
  • जन्म- 19 अप्रैल 1968
  • जन्म स्थान- मुंबई, महाराष्ट्र, भारत
  • पिता का नाम -स्वर्गीय अहमद अली खान
  • राष्ट्रीयता -भारतीय
  • धर्म -इस्लाम

परिचय-

अरशद वारसी भारतीय फिल्म इंडस्ट्री के जाने माने अभिनेता , निर्माता और टीवी कलाकार है. अरशद वारसी आज एक सेलेब्रिटी है अपने करियर के शुरूआती दिनों में सेल्समेन का काम किया करते थे. मुन्नाभाई सीरीज की फिल्मो में सर्किट के किरदार से इन्हें बॉलीवुड में एक अलग ही पहचान मिली.

जन्म-

अरशद मुंबई के मुस्लिम परिवार से ताल्लुक रखते हैं। उनका जन्म 19 अप्रैल 1968 को हुआ था। अरशद की प्रारंभिक शिक्षा नासिक, महाराष्ट्र में हुई। हालांकि दसवीं के बाद ही अरशद ने स्कूल छोड़ दिया था। अरशद की पत्नी मारिया गोरेट्टी एक वीजे हैं। दोनों की मुलाकात अरशद की डांस एकेडमी में हुई थी।

बात सन 1991 की है अरशद उस वक्त एक डांस ग्रुप चलाते थे। उन्हें मुंबई के सेंट जेवियर कॉलेज में आयोजित मल्हार फेस्टिवल में बतौर जज आमंत्रित किया गया था। वहां उन्होंने सेंट एंड्रयू कॉलेज की प्यारी सी मुस्कान वाली छात्रा मारिया गोरेटी को देखा, जो कॉम्पटीशन में हिस्सा लेने आई थीं। वहीं पहली नजर में अरशद मारिया को अपना दिल दे बैठे थे।

अरशद से मिलने के बाद उन्होंने इस शर्त पर रजामंदी दी कि शादी चर्च में होगी। जबकि अरशद का परिवार मुस्लिम रिवाजों से निकाह कराना चाहता था। आखिर दोनों ने तय किया कि वह वैलेंटाइन-डे के दिन शादी करेंगे और दोनों ने 14 फरवरी 1999 को ईसाई और मुस्लिम दोनों रीति रिवाज से शादी की। 20 साल की उम्र में अपने माता-पिता को खो चुके अरशद के लिए मारिया सबसे बड़ा सपोर्ट सिस्टम हैं।
हद मुश्किलों का सामना किया था

सिर्फ 20 साल की उम्र में मुंबई जैसे बड़े शहर में किसी लड़के के सर से उसके मां बाप का साया उठ जाना कितना दुख भरा होता होगा ये सोच पाना भी बेहद मुश्किल है। ये घटना किसी भी इंसान को उसके सपनों से दूर करने के लिए काफी है। लेकिन बॉलीवुड अभिनेता अरशद वारसी उन लोगों में से हैं, जिन्होंने अपनी मुश्किलों को ही अपनी ताकत में तब्दील कर लिया और अपने लिए एक नया मुकाम बनाया। अरशद वारसी को साल 2003 में आई फिल्म ‘मुन्ना भाई एमबीबीएस’ से पहचान मिली मगर हिंदी सिनेमा में उनका सफर सालों पहले शुरू हुआ था। अपनी कॉमेडी से हंसाने वाले, गंभीर फिल्मों में गजब की अदाकारी से हिला कर रख देने वाले और कई फिल्मों में हीरो को भी दबाने वाले अभिनेता अरशद वारसी का आज 50वां जन्मदिन है।

सेल्समैन रह चुके हैं अरशद

14 साल की उम्र में मां बाप गुजर जाने के बाद पैसों की तंगी की वजह से सिर्फ 17 साल की उम्र में सेल्समैन का काम शुरू कर दिया। घर-घर जाकर कॉस्मेटिक्स बेचने लगे , अरशद ने सिर्फ 10वीं तक ही पढ़ाई की उन्हें डांस का बहुत शौक था, उन दिनों मुंबई में अकबर सामी डांस ग्रुप का बड़ा नाम था। वहां से अरशद को डांस ग्रुप ज्वाइन करने का ऑफर मिला, फिर क्या था तभी से अरशद की जिंदगी सही पटरी पर आ गई।

अमिताभ ने दी थी पहली फिल्म

साल 1996 में अरशद वारसी ने बॉलीवुड में पहली फिल्म की. फिल्म का नाम था ‘तेरे मेरे सपने’ ये फिल्म अमिताभ बच्चन के प्रोडक्शन हाउस ए.बी.सी.एल के बैनर तले बनी थी। इस फिल्म के लिए अरशद को जया बच्चन ने रोल ऑफर किया था. फिल्म में चंद्रचूर सिंह, प्रिया गिल, सिमरन और प्राण जैसे कलाकार भी थे. अरशद की ये फिल्म बॉक्स ऑफिस पर हिट साबित हुई।लेकिन इसके बाद ‘हीरो हिंदुस्तानी’, ‘होगी प्यार की जीत’ और ‘जानी दुश्मन’ जैसी कई फिल्में सिनेमाघरों में कुछ खास करने में कामयाब नहीं हो पाईं।

‘मुन्नाभाई एमबीबीएस’ रही टर्निंग प्वाइंट

अरशद के फिल्मी करियर में राजकुमार हिरानी के निर्देशन में बनी फिल्म ‘मुन्नाभाई एमबीबीएस’ एक बड़ी टर्निंग प्वाइंट साबित हुई। इस फिल्म में उन्होंने ‘सर्किट’ का किरदार निभाया था. संजय दत्त फिल्म में मुन्ना बने थे। फिल्म में मुन्ना और सर्किट की जोड़ी सुपरहिट रही और तब से अरशद ने फिर कभी वापस मुड़कर नहीं देखा। इस फिल्म के लिए अरशद को फिल्मफेयर में बेस्ट सपोर्टिंग एक्टर के लिए नॉमिनेशन भी मिला था।

टीवी में भी छाए रहे अरशद

अरशद सिर्फ फिल्मों में ही नहीं बल्कि छोटे परदे पर भी अपनी छाप छोड़ने में कामयाब रहे। आज के दौर का सबसे बड़ा रिएलिटी शो यानि बिग बॉस के पहले सीजन के होस्ट कोई और नहीं बल्कि अरशद वारसी ही थे। बिग बॉस के अलावा उन्होंने स्टार गोल्ड पर आने वाले शो ‘सबसे फेवरेट कौन’ को भी होस्ट किया। साल 2010 में अरशद ‘जरा नचके दिखा’ में जज के तौर पर भी नजर आए।

सिर्फ कॉमेडी नहीं गंभीर फिल्मों में भी की अदाकारी

साल 2005 में अरशद वारसी ने फिल्म ‘सहर’ में काम किया फिल्म में उन्होंने एक ईमानदार पुलिस अधिकारी की भूमिका निभाई। सहर में अरशद ने वो कर दिखाया जो उनके अंदर शायद छुपा हुआ था। कबीर कौशिक के निर्देशन में बनी इस फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर कुछ खास कमाल नहीं किया लेकिन अरशद अपनी अदाकारी से लोगों को बता चुके थे कि वो सिर्फ कॉमेडी ही नहीं करते बल्कि एक संपूर्ण कलाकार होने के सभी गुण उनमें मौजूद हैं।

‘जॉली एलएलबी’, ‘इश्किया’, ‘डेढ़ इश्किया’, ‘जिला गाजियाबाद’ और ‘इरादा’ जैसी फिल्मों में अरशद ने कमाल की एक्टिंग की इन फिल्मों में उनकी अदाकारी की खूब सराहना की गई.

विवाद-

2001 में उन्होंने कैटरीना कैफ अभिनीत एक शीतल पेय विज्ञापन पर टिप्पणी करते हुए कहा कि “कैसे स्लाइस के विज्ञापन में कैटरीना ने कैरी को पकड़ा और वह आम जूस बन जाता है … और अगर अंगूर देते तो शायद शराब बन जाती।” हालांकि, इस विवादास्पद टिप्पणी को सोशल मीडिया, समाचार पत्र और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया से हटा दिया गया था। इसके बाद उन्होंने अपनी टिप्पणी के बारे में कहा, “मेरी टिप्पणी का कैटरीना से कोई लेना देना नहीं है। यह विज्ञापन के रचनात्मकों कार्यों को अवलोकन करता है। जिसे सरल भाषा में मज़ाक कहते हैं।”

2016 में Arshad Warsi अपनी फिल्म ‘द लीजेंड ऑफ माइकल मिश्रा’ के एक संवाद “डाकू वाल्मीकि से संत वाल्मीकि बन जाएगा” से जान से मरने और जिन्दा जला देने की धमकियां अरशद को मिलने लगी। जिसके बाद अरशद ने एक ट्वीट के माध्यम से अपने संवाद का स्पष्टीकरण दिया।

पुरस्कार-

  • 2004 में, उन्हें फिल्म मुन्ना भाई एमबीबीएस में एक कॉमिक भूमिका के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के रूप में ज़ी सिने पुरस्कार से सम्मानित किया गया।
  • 2005 में, उन्हें फिल्म हलचल के लिए गिफा बेस्ट कॉमेडियन पुरस्कार से सम्मानित किया गया।
  • Arshad Warsi को 2007 में फिल्म लगे रहो मुन्नाभाई में कॉमिक रोल के लिए सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के रूप में फिल्मफेयर अवॉर्ड, सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेता के लिए आईआईएफए अवॉर्ड, ज़ी सिने पुरस्कार, सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेता के लिए स्क्रीन अवॉर्ड, सर्वश्रेष्ठ एंकर-गेम / क्विज़ शो के लिए इंडियन टेलीविजन अकादमी पुरस्कार से सम्मानित किया गया।
  • 2011 में फिल्म इश्किया के लिए सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेता के रूप में स्क्रीन पुरस्कार से सम्मानित किया गया।
  • उन्हे 2013 में फिल्म जॉली एलएलबी के लिए सबसे मनोरंजक हास्य अभिनेता के रूप में बिग स्टार एंटरटेनमेंट अवॉर्ड से सम्मानित किया गया।
  • 2014 में, Arshad Warsi को फिल्म जॉली एलएलबी में कॉमिक भूमिका के लिए सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के रूप में अप्सरा फिल्म प्रोड्यूसर गिल्ड अवॉर्ड और आईआईएफए अवॉर्ड से सम्मानित किया गया।

Arshad Warsi Net Worth

  • अरशद वारसी की कुल संपत्ति लगभग $15 Million है।

Previous articleचरणजीत सिंह चन्नी की जीवनी | Charanjit Singh Channi Net Worth
Next articleयामी गौतम की जीवनी | Yami Gautam Net Worth, Age, Family

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here